भदोही. उत्तर प्रदेश के भदोही जिले के गोपीगंज थाना क्षेत्र में किशुनदेवपुर गांव में खेलते समय कुएं में गिरी बेटी को बचाने के लिए मां ने भी कुएं में छलांग लगा दी जिससे दोनों की मौत हो गई. घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को बाहर निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. 
 
किशुनदेवपुर निवासी जितेन्द्र कुमार दूबे की डेढ़ वर्षीय पुत्री घर के बाहर खेल रही थी. खेलते-खेलते वह घर के समीप ही बने कुएं में गिर गई. बच्ची की मां अराधना दूबे (20) बेटी को बचाने के लिए कुएं में छलांग लगा दी. जिससे मां और बेटी की मौत हो गई. घटना की खबर फैलते ही गांव में कोहराम मच गया. अराधना का पति सूरत में नौकरी करता है. 
 
अराधना के मायके वालों ने पुलिस को सूचना दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को बाहर निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. अराधना का मायका भदोही कोतवाली क्षेत्र के मोढ़ के सरांय क्षत्रशाह गांव में है. अराधना के पिता ने गोपीगंज थाने में तहरीर देकर बताया कि उसकी नतनी लक्ष्मी खेलते समय कुएं में गिर गयी. उसी को बचाने के चक्कर में बेटी अराधना दूबे ने भी कुएं में छलांग लगा दी. अराधना की तीन वर्ष पूर्व शादी हुई थी.