भोपाल. मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार में गृहमंत्री बाबूलाल गौर के एक कार्यक्रम के दौरान रूसी महिलाओं को लेकर अपमानजनक बातें कहने के बाद विवाद खड़ा हो गया है. भोपाल में कार्यक्रम के दौरान गौर ने रूसी महिलाओं के साथ हुई एक मुलाकात का जिक्र करते हुए कहा ‘एक बार कुछ रूसी महिलाओं ने उनसे पूछा कि वे बिना चेन अथवा बेल्‍ट की मदद से धोती कैसे पहनते हैं. मैंने कहा कि मैं खोल कर कैसे दिखाऊं. इस तकनीक को सीखने के लिए आपको अकेले मुझसे मिलना होगा.’

रूसी यात्रा के अनुभव का जिक्र करते हुए बाबूलाल ने बताया, ‘रूस की औरतें काफी मोटी होती हैं. उन्‍होंने मुझे गले लगा लिया. वो मुझे चूमने लगीं. मैंने उनसे कहा कि अगर ये फोटो बीजेपी वाले देख लेंगे तो मुझे टिकट ही नहीं देंगे.’ उन्‍होंने बताया, ‘वहां सम्मान देने का तरीका है, भारत में ऐसा होता तो हंगामा खड़ा हो जाता. अपने यहां यदि कोई ऐसे सम्‍मान करे तो जूते खा ले. यह उनकी परंपरा है. मुझे इस पर बहुत हैरानी हुई.’

भाजपा नेता ने बताया, ‘रूसी नेताओं की पत्नियों ने उनसे धोती के बारे में काफी कुछ पूछ लिया था. उनके कई सवाल थे, मसलन- इसमें बेल्ट कहां लगाते हैं, जिप कहां है, इसे पहनते-उतारते कैसे हैं.’ इससे पहले भी भाजपा नेता कई बार विवादित बयान दे चुके हैं. एक बार उन्‍होंने बलात्‍कार की बढ़ती घटनाओं पर कहा था कि दुष्कर्म एक सामाजिक विकृति है. यह सिर्फ कानून के डंडे से दूर नहीं हो सकता. महिलाओं को ऐसे कपड़े नहीं पहनने चाहिए जिससे कोई आकर्षित हो. वहीं, गौर ने महिलाओं से छेड़छाड़ करने वाले मजनूओं की सरेआम पिटाई करने की सलाह दी थी.