नई दिल्ली. न्यू राजेंद्र नगर इलाके में हुए पुलिस एनकाउंटर पर सवाल उठे हैं. पुलिस एनकाउंटर में मारे गए मनोज वशिष्ठ के परिजनों ने कहा कि उसका कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं था. परिजनों के मुताबिक मनोज वशिष्ठ समाजवादी पार्टी से जुड़ा था और किसी पॉलिटिकल मीटिंग में हिस्सा लेने न्यू राजेंद्र नगर गया था, जहां एक खाली रेस्टोरेंट में मीटिंग थी. परिजनों ने इसे हत्या करार देते हुए एनकाउंटर के विरोध में आज जंतर-मंतर पर प्रदर्शन का ऐलान किया है.परिजनों ने बताया कि पुलिस ने हफ्तेभर पहले भी मनोज को घेरकर मारने की कोशिश की थी.

कल रात दिल्ली के न्यू राजेंद्र नगर इलाके के सागर रत्न रेस्टोरेंट में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने मनोज वशिष्ठ को एनकाउंटर में मार गिराया था. पुलिस के मुताबिक उस पर इनाम रखा गया था. पुलिस के मुताबिक सागर रत्न रेस्टोरेंट में मनोज ने पुलिस की टीम पर गोली चला दी, पुलिस की जवाबी कार्रवाई में मनोज को गोली लगी और उसकी मौत हो गई. स्पेशल सेल की टीम मनोज को पकड़ने के लिए पहले से ही सागर रत्न रेस्टोरेंट पहुंची हुई थी. पुलिस के अनुसार मनोज फर्जीवाड़े के कई मामलों में वॉन्टेड था, और उसकी लंबे वक्त से तलाश थी.