कोलकाता. साल 1995 में मिलिंद सोमन और मधु साप्रे के एक प्रिंट ऐड ने काफी खलबली मचा दी थी. इस ऐड में दोनों ने न्यूड पोज दिया था, बस जूते पहने हुए थे और शरीर पर जिंदा अजगर लिपटा हुआ था. इस विवादित विज्ञापन की वजह से मुंबई पुलिस ने अश्लीलता फैलाने के आरोप में वाइल्डलाइफ प्रोटेक्शन ऐक्ट के तहत दोनों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया था. अब ऐसा ही कुछ किस्सा हुआ है कोलकाता के सॉफ्टरवेयर इंजीनियर और पार्ट-टाइम फोटोग्राफर अनिरुद्ध सेन के साथ.
 
मिलिंद और मधु के विवादित ऐड की नकल करते हुए अनिरुद्ध ने भी जिंदा सांप को शरीर में लपेटे हुए मॉडल का न्यूड फोटोशूट किया और तस्वीरों को फेसबुक में अपलोड कर दिया. वन विभाग ने उन्हें वाइल्डलाइफ प्रोटेक्शन ऐक्ट के तहत हिरासत में ले लिया है.
 
चीफ वाइल्डलाइफ वॉर्डन प्रदीप व्यास ने कहा, ‘फोटोग्राफर अनिरुद्ध सेन ने न्यूड मॉडल के शरीर पर जिंदा सांप की फोटो को फेसबुक में अपलोड किया था, लेकिन वाइल्डलाइफ प्रोटेक्शन ऐक्ट 1972 के तहत वन्य जीवों का कमर्शियल मकसद के लिए इस्तेमाल करना मना है. सेन के खिलाफ कार्रिवाई की जा रही है’. सेन के अलावा उनके सहायक, मॉडल प्रिया, और मेकअप आर्टिस्ट के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया है.सेन ने इस मामले पर सफाई देते हुए कहा है कि उन्हें नहीं पता था कि इस तरह का कोई कानून है जो जानवरों की इंसानों के साथ फोटो लेने पर रोक लगाता है. 
 
उन्होंने कहा, ‘मैं मधू और मिलिंद के ऐड से प्रभावित हुआ था, और खुद की तरफ से इस तरह का कुछ फोटशूट करना चाहता था. जब वह फोटोशूट हुआ था मैं काफी छोटा था, इसलिए मुझे उस ऐड के बाद हुए विवाद के बारे में कुछ पता नहीं था. मैंने वन विभाग के अधिकारियों को बताया भी है कि मेरे से जो कुछ भी हुआ वह गलती से हुआ है, मैंने कोई अपराध नहीं किया. लेकिन अपनी सफाई देने के बाद भी अगर मेरे साथ अपराधियों जैसा व्यवहार किया जाएगा तो यह बहुत दुखदायी होगा’. 
 
बता दें कि ऐसा पहली बार हुआ है कि बंगाल वन्य विभाग ने ऐसे अपराध में किसी फोटोग्राफर को गिरफ्तार किया है.