इंदौर. मध्य प्रदेश की देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी के कुछ विभागों में दाखिले के लिए ऑनलाइन प्रवेश परीक्षा कराई जाएगी. पहली बार इस तरह के परिक्षण के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन ने उन विषयों का चयन किया है जिनमें सीईटी(कॉमन एंट्रेंस टेस्ट) के बजाए विभाग स्तर पर परीक्षाएं कराई जाती थीं. अगले साल सीईटी भी ऑनलाइन ही कराए जा सकते हैं.
 
प्रभारी कुलपति प्रो. आशुतोष मिश्र के अनुसार इस साल से एमएससी बायोकेमेस्ट्री का नया पाठ्यक्रम भी सीईटी में जोड़ा गया है. 11 विभागों के 35 कोर्स में प्रवेश के लिए सीईटी 2 जून को होगी, इस बात की घोषणा 2 मई को की जा चुकी है. इस परीक्षा के लिए इंदौर, भोपाल, ग्वालियर, दिल्ली, इलाहाबाद, रायपुर, कोलकाता, जबलपुर और जयपुर को केंद्र बनाया जा रहा है.
 
आवेदन शुल्क 1500 रुपए रहेगा. काउंसलिंग 23 जून से शुरू होगी. ये निर्णय ईएमआरसी में हुई बैठक में सभी विभागों के विभागाध्यक्षों की उपस्थिति में लिए गए. आईआईपीएस, आईएमएस, ईएमआरसी, एसजेएमसी, स्कूल ऑफ कॉमर्स, स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स, स्कूल ऑफ फार्मेसी सहित 11 विभाग के लिए सीईटी होती है.