सीतापुर. अखिलेश सरकार ने लखनऊ विकास प्राधिकरण (एलडीए ) और पुलिस से छड़प करने  और गिरफ्तार हुए विधायक को पार्टी से बर्खास्त कर दिया है. दरअसल एलडीए और पुलिस की टीम अवैध निर्माण को ढहाने गई थी जिसके बाद विधायक ने बहस बाजी की और उसे गिरफ्तार कर लिया गया.
 
पार्टी प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने बताया कि पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश यादव ने विधायक रामपाल यादव को अवैध गतिविधियों में लिप्त होने और पार्टी की छवि को धूमिल करने के आरोप में दल से निकाल दिया है.
 
रामपाल और उनके रिश्तेदार पूर्व विधायक राजेंद्र यादव समेत उनके आठ समर्थकों को कल राजधनी के जियामउ इलाके में अवैध निर्माण ढहाने पहुंचे एलडीए के अधिकारियों एवं कर्मचारियों पर हमला करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया था.
 
हत्या का प्रयास और आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत कल रात गिरफ्तार रामपाल यादव को आज अदालत में पेश किया जिसने उन्हें उनके आठ समर्थकों के साथ 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया.