नई दिल्ली. फॉरन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट (एफडीआई) आकर्षित करने के मामले में इंडिया ने अच्छी बढ़त हासिल की है. जानकारी के अनुसार भारत ने चीन को पीछे छो़ड़ दिया है. 
 
रिपोर्ट के मुताबिक इंडिया ने 63 बिलियन डॉलर के एफडीआई प्रॉजेक्ट्स को 2015 में आकर्षित किया. इसके साथ ही 697 प्रॉजेक्ट्स में 8 पर्सेंट की बढ़ोतरी हुई है. द फाइनैंशल टाइम्स के एफडीआई डिविजन की दी जानकारी के अनुसार 2015 में बड़ी कंपनियों में फॉक्सकॉन, सनएडिशन ने पांच और चार बिलियन डॉलर के प्रॉजेक्टस में इन्वेस्टमेंट की हामी भरी हैं.
 
रिपोर्ट के मुताबिक 2015 में इंडिया पहली बार एफडीआई के मामलें में शिखर पर पहुंचा. इंडिया ने चीन के साथ अमेरिका को भी पीछे छोड़ दिया। अमेरिका ने 2015 में 59.6 बिलियन डॉलर और चीन ने 56.6 बिलियन डॉलर एफडीआई आकर्षित किए.
 
केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने ट्वीट कर कहा, ‘एफडीआई आकर्षित करने के मामले में इंडिया टॉप पर पहुंच गया. दावा किया गया है कि 2015 में एफडीआई आकर्षित करने वाले टॉप 10 राज्यों में पांच भारतीय राज्य हैं. इस दौरान गुजरात ने 12.4 बिलियन डॉलर एफडीआई आकर्षित किए. महाराष्ट्र ने पूरे साल में शानदार प्रदर्शन करते हुए 8.3 बिलियन डॉलर की एफडीआई को आकर्षित किया.