नई दिल्ली. रेलवे के ग्रुप सी कर्मचारी अपने क्वार्टर में AC नहीं लगा सकते है. रेलवे के टाइप वन और टाइप टू क्वार्टर में एसी लगाने की सख्त मनाही है. ऐसा करने पर बड़े जुर्माने के साथ विभागीय कार्रवाई का भी प्रावधान है. बता दें कि छटा वेतन लागू होने के बाद रेलवे कर्मचारी के इतने वेतन होते है की वह एसी खरीद तो सकते है लेकिन क्वार्टर में नहीं लगा सकते है.
 
रेलवे के नियम के अनुसार यदि किसी कर्मचारी या उनके आश्रित किसी बीमारी से ग्रसित हैं और डॉक्टर उन्हें एसी रखने की सलाह देते हैं, तो मुख्यालय के चीफ इलेक्ट्रिकल इंजीनियर को पत्र लिखकर अनुमति मांगनी होगी. यदि सीइइ की मेहरबानी हुई तब कर्मचारी अलग से बिजली मीटर लगाकर एसी लगा सकता है. साथ ही उसे और भी कई औपचारिकताएं पूरी करनी होगी. अधिकारी को सिर्फ एक एसी लगाने की छूट रेल अफसर दे भी दे तो सिर्फ एक कमरे में एसी लगा सकते हैं. टाइप थ्री से टाइप फाइव तक के क्वार्टरों में एक ही एसी लगाने की अनुमति है.