चेन्नई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को अन्नाद्रमुक प्रमुख जे जयललिता को कर्नाटक उच्च न्यायालय द्वारा आय से अधिक सम्पत्ति मामले में बरी किये जाने पर बधाई दी.  अन्नाद्रमुक की ओर से जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया है, ‘‘माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुराताची तलैवी अम्मा से बात की और उन्हें अपनी बधाई दी.’’ आपको बता दें कि मोदी और जयललिता के बीच मैत्रीपूर्ण संबंध हैं.

जयललिता ने जब 2011 में तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली थी तब मोदी उस कार्यक्रम में शामिल हुए थे. वहीं अगले वर्ष जब मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री पद की शपथ ले रहे थे तब अन्नाद्रमुक प्रमुख जयललिता ने उस कार्यक्रम में हिस्सा लिया था. जयललिता को कर्नाटक उच्च न्यायालय ने 66.65 करोड़ रूपये के आय से अधिक सम्पत्ति मामले में बरी कर दिया. उच्च न्यायालय ने इसके साथ ही एक विशेष अदालत के उन्हें चार साल की सजा सुनाने और मामले में उन पर 100 करोड़ रूपये का जुर्माना लगाने के आदेश को भी रद्द कर दिया.

IANS