नई दिल्ली. अगर आप गूगल सर्च पर जाकर Anti National (राष्ट्र विरोधी) और Sedition (राजद्रोह) शब्द टाइप करेंगे तो आपको दिल्ली में मौजूद जेएनयू का नक्शा दिखाई देगा. इस मामले में गूगल के प्रवक्ता का कहना है कि हमें इस मुद्दे की जानकारी है और हम इसे ठीक करने में लगे हैं.
 
गौरतलब है कि जेएनयू परिसर में नौ फरवरी को कथि‍त देश विरोधी नारेबाजी के बाद से राष्ट्र विरोधी यानी Anti National और राजद्रोह यानी Sedition शब्द खूब चर्चा में है.
 
इतना ही नहीं देशद्रोह, सेडिशन, के अलावा कन्हैोया और जेएनयू विवाद से जुड़े लोग स्मृति ईरानी, अनुपम खेर, दिल्ली पुलिस कमिश्नोर बीएस बस्सी और पत्रकार अरनब गोस्वामी भी गूगल मैप पर जेएनयू के पते पर दिखाई दे रहे हैं.
 
‘यह बेहद अपमानजनक’
गूगल मैप्स में यह खामी नजर आने के बाद जेएनयू स्टूडेंट्स यूनियन की वाइस प्रेसिडेंट शेहला राशिद शोरा ने कहा कि यह बेहद अपमानजनक है. हम गूगल अथॉरिटीज से कॉन्टैक्ट करेंगे और यह पता लगाएंगे कि ऐसा कैसे हो सकता है. वहीं इस बारे में साइबर लॉ एक्सपर्ट पवन दुग्गल का कहना है कि यह कम्प्यूटर नेटवर्क की तकनीकी दिक्क्त हो सकती है.