पटना. हैदराबाद के सांसद व ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी द्वारा ‘भारत माता की जय’ न बोलने वाले बयान से पूरे देश में बड़ी बहस छिड़ चुकी है. लेकिन इस विवाद में एक और नई बात तब सुनने को मिली जब बिहार के गोपालगंज में एक व्यक्ति ने औवैसी के खिलाफ मुकदमा दायर कर कहा कि उनके बयान की वजह से उसकी मां की तबीयत बिगड़ गई. 
 
खबर है कि औवैसी के विवादास्पद बयान सुनने के बाद 90 वर्षिया सदिकन खातून को ऐसा सदमा लगा कि उनकी तबीयत बिगड़ गई. 
 
खातून के बेटे कुर्बान अंसारी ने बताया कि बुधवार को उनकी मां ने जब टीवी पर औवैसी का भारत माता की जय न बोलने वाले वीडियो को देखा तो उनकी तबीयत बिगड़ गई और वह बेहोश हो गईं. उन्हें तत्काल स्थानीय अस्पताल ले जाया गया,.जहां उनका इलाज कराया गया.
 
कुर्बान अंसारी ने गुरुवार को गोपालगंज मुख्य न्यायायिक दंडाधिकारी की अदालत में एक शिकायतपत्र दायर कर औवैसी के खिलाफ मुकदमा चलाने की मांग की. कुर्बान के अधिवक्ता रामअवतार सिंह ने बताया कि शिकायतपत्र में कहा गया है कि ओवैसी का ‘भारत माता की जय’ कहने से इन्कार वाला बयान न केवल देश तोड़ने वाला है, बल्कि यह देश का अपमान भी है. 
 
बता दें कि हैदराबाद से सांसद ओवैसी ने पिछले दिनों एक कार्यक्रम में कहा था कि अगर उनकी गर्दन पर छुरी भी रख दी जाए, तब भी वह ‘भारत माता की जय’ नहीं कहेंगे. ओवैसी के इस बयान को लेकर देशभर में कई नेताओं एवं संगठनों ने उनके खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. 
 
IANS