मुंबई. राहुल गांधी ने पिछले साल चुनाव से पहले महात्मा गांधी और RSS पर एक भाषण दिया था जिसके बाद उनके खिलाफ महाराष्ट्र के भिवंडी की अदालत में आपराधिक मानहानि का मामला चलाया जा रहा है. उन्हें इस मामले में शुक्रवार को हाजिर होने के लिए कोर्ट ने समन जारी किया है. गौरतलब है कि, राहुल ने कल ही SC से अपनी हाजरी पर रोक पा ली थी.

वहीं, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के बाद कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी आपराधिक मानहानि के कानून को चुनौती देते हुए सुप्रीम कोर्ट पहुंच गए हैं. कोर्ट उनकी याचिका पर गुरुवार को सुनवाई करेगा. बुधवार को राहुल गांधी की ओर से सुप्रीम कोर्ट में ये मसला उठाया गया. इसके बाद कोर्ट ने इस मामले को उसी बेंच के पास भेज दिया जहां पहले ही केजरीवाल और बीजेपी नेता सुब्रह्मण्‍यम स्वामी की याचिका पर सुनवाई चल रही है. इन मामलों में कोर्ट नोटिस जारी कर केन्द्र सरकार से जवाब मांग चुका है और दोनों पर चल रहे मामलों की सुनवाई पर रोक लगा चुका है.

अब राहुल ने भी आईपीसी की धारा 499 और 500 को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है और कहा है कि ये कानून उन्हें संविधान से मिली विचार व्यक्त करने की आज़ादी का उल्लंघन करता है. राहुल ने अपने ऊपर चल रहे मामले पर रोक लगाने और इस कानून को रद्द करने की मांग की है.

IANS