मुंबई. महाराष्ट्र के भूमाता ब्रिगेड की अध्यक्ष तृप्ति देसाई शनि शिंगणापुर मंदिर में महिलाओं को पूजा का हक दिलाने के लिए लड़ाई लड़ रही है. इसबीच अब तृप्ति देसाई ने शिव मंदिर त्र्यंबकेश्वर में जाने के लिए मुहिम शुरू की है. तृप्ति का कहना है कि हम जबरन मंदिर के अंदर प्रवेश करेंगे.

आज महाशिवरात्रि के अवसर पर तृप्ति अपने समर्थकों के साथ मंदिर में जाने की कोशिश करेंगी. त्रयम्बकेश्वर मंदिर में महिलाओं को पूजा की इजाजत नहीं है, इसलिए तृप्ति के जाने पर विवाद है. भूमाता ब्रिगेड का महिला मंदिर प्रवेश आंदोलन विवादों में घिर भी गया है. साधु संतों ने इसका विरोध किया है.

उनका कहना है कि तृप्ति प्रचार के लिए ये सब कर रही हैं. भूमाता ब्रिगेड का महिला मंदिर प्रवेश आंदोलन विवादों में घिर भी गया है. साधु संतों ने इसका विरोध किया है. कहा है कि तृप्ति प्रचार के लिए ये सब कर रही हैं.

हाराष्ट्र के नासिक से 28 किलोमीटर दूर स्थित श्री त्र्यंबकेश्वर ज्योर्तिलिंग स्थित है. यह भगवान शिव के 12 ज्योर्तिलिंगों में से एक है. देसाई को लेकर वहां सुरक्षा पहले ही बढ़ा दी गई है. इसके साथ ही स्थानिय लोग भी जुटने लगे हैं. प्रशासन वहां की हर हरकत को लेकर सतर्क है.