मुंबई. ठाणे में अपने परिवार के 14 सदस्यों की हत्या करने के बाद खुदकुशी करने वाले हसनैन पर 68 लाख का कर्ज था. उधार लिए गए पैसे उसने शेयर मार्केट में लगाए थे. यही नहीं वह मानसिक रूप से बीमार अपनी बहन का शारीरिक शोषण भी करता था. यह बात इस हत्याकांड की इकलौती चश्मदीद और हसनैन की बहन सुबिया ने पुलिस को दिए अपने बयान में कही है.
 
ठाणे पुलिस के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि हसनैन ने अलग-अलग मौकों पर कारोबार करने के बहाने अपने करीबी रिश्तेदारों से करीब 67 लाख रुपये का कर्ज ले रखा था. इसके अलावा हसनैन शेयर के कारोबार से भी जुड़ा हुआ था. अब पुलिस यह पता लगा रही है कि क्या उसे शेयर कारोबार में बड़ा नुकसान हुआ था.
 
पुलिस अधिकारी ने बताया” सुबिया ने हमें बताया कि हसनैन बैतुल का शारीरिक शोषण करता था, जिसकी हम पुष्टि करने की कोशिश कर रहे हैं. 6 फरवरी को एक शादी में सारी बहनें मिली थीं, हसनैन ने उन्हें बातें करते सुना था. उसे लगता था कि उन्होंने रिश्तेदारों में भी यह बात बताई होगी.” हसनैन ने ठाणे के माजीवाड़ा में भी एक फ्लैट किराये पर ले रखा था लेकिन पुलिस को वहां कुछ संदेहास्पद नहीं मिला है. फिलहाल वह हसनैन की बहन सुबिया के बयानों को सबूतों की कसौटी पर कसने में जुटी है.
 
बता दें कि महाराष्ट्र के ठाणे में रविवार तड़के एक परिवार के 14 सदस्यों की हत्या कर दी गई, जबकि एक गंभीर रूप से घायल है. यह घटना ठाणे के कासारवडवाली क्षेत्र में हुई, जहां हमलावर असनेन अनवर वारेकर (32) ने एक के बाद एक अपने ही परिवार के सदस्यों का गला काट कर हत्या कर दी. इस खौफनाक वारदात को अंजाम देने के बाद उसने आत्महत्या कर ली. मृतकों में 7 बच्चों, 6 महिलाओं और एक पुरुष शामिल हैं.