काठमांडू. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि मधेशियों की समस्या नेपाल की आंतरिक समस्या है इस पर भारत हस्तक्षेप नहीं कर सकता. उन्होंने यह बात नेपाल कांग्रेस के 13वें अधिवेशन में कही.
 
नीतीश ने नेपाल में मधेशी नेताओं से मुलाकात के बाद कहा कि नेपाल इतना सक्षम है कि वह अपनी आंतरिक समस्या खुद सुलझा सकता है. उन्होंने कहा, ‘मधेशी लोगों की समस्या नेपाल की आंतरिक समस्या है. नेपाल के नेता इतने सक्षम है कि वह यह समस्या खुद सुलझा सकते हैं. भारत किसी देश के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप नहीं कर सकता’.
 
उन्होंने यह भी कहा कि भारत हमेशा नेपाल के विकास और शांति में उसका सहयोग करेगा. लेकिन वह नेपाल के राजनीतिक मामलों में दखल नहीं दे सकता.
 
नीतीश ने काठमांडू में नेपाली कांग्रेस के 13वें विशेष सम्मेलन को संबोधित किया. जिसकी शुरुआत गुरुवार से हुई.
 
बता दें कि मधेशी नेपाल के संविधान में संशोधन के लिए पिछले छह महीनों से आंदोलन कर रहे हैं.