चेन्नई. लोकसभा में विपक्ष को जेएनयू के मुद्दे पर जवाब देते हुए स्मृति ईरानी ने महिषासुर जयंती कार्यक्रम में बंटे पर्चे को पढ़ने की गलती कर दी. जिसके बाद सदन में विपक्ष को पलटवार करने का मौका मिला है. वहीं जब तमिलनाडु के न्यूज चैनल पर महिला टीवी एंकर ने महिषासुर जयंती का वही पर्चा पढ़ा तो उसके बाद से उसे धमकी भरे फोन आने शुरु हो गए.  
 
रिपोर्ट के मुताबिक एंकर सिंधू सूर्यकुमार को अब तक दो हजार लोग फोन करके गाली दे चुके हैं. सिंधू का आरोप है कि शो के बाद उनके पास कट्टरपंथी हिंदू संगठनों से जुड़े लोगों के धमकी भरे फोन आए. उसने पुलिस को दी शिकायत में कहा है कि धमकी देने वाले लोग उसे प्रॉस्टीट्यूट तक कहा और एक कॉलर ने पूछा कि क्या मैं खुद को दुर्गा समझती हूं. पुलिस सोमवार तक इस मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है.
 
बता दें कि मलयालम टीवी चैनल पर शुक्रवार रात को ‘एशियानेट’ टॉक शो के दौरान महिषासुर जयंती का वही पर्चा पढ़कर सुनाया जो स्मृति ईरानी ने कुछ दिनों पहले संसद में पढ़ा था.
 
तिरुअनंतपुरम के पुलिस कमिश्नर जी. कुमार ने बताया कि सिंधू को धमकी देने के आरोप में गिरफ्तार किए गए लोग भाजपा, आरएसएस और श्री राम सेना से जुड़े हुए हैं. इतना ही नहीं गिरफ्तार किए गए एक आरोपी ने पूछताछ के दौरान बताया है कि उसे ये नंबर महिला एंकर सिंधू का नंबर वॉट्सएप ग्रुप के जरिए मिला था.
 
पुलिस ने इस मामले में पांच में से तीन लोगों कन्नूर से गिरफ्तार किया है. पुलिस ने बताया है कि इनमें से एक आरोपी मेंगलौर के पब अटैक केस (2009) में भी आरोपी रह चुका है.