हैदराबाद. आंध्र प्रदेश का इंजीनियरिंग का एक छात्र सीरिया में आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) के लड़ाके के रूप में लड़ाई के दौरान मारा गया. पुलिस सूत्रों ने यह जानकारी दी. मोहम्मद आतिफ वसीम लंदन में इंजीनियरिंग में स्नातकोत्तर की पढ़ाई कर रहा था, जहां से वह आईएस में शामिल होने के लिए सीरिया चला गया.
  
हैदराबाद में उसके परिजन को मिली सूचना के मुताबिक, वसीम (28) की मौत दो सप्ताह पहले हुई. उसका परिवार अदिलाबाद जिले के मंचरियाल का निवासी है. वसीम के परिवार को 24 अप्रैल को अरबी भाषा में एक ई-मेल मिला था, जो कथित तौर पर आईएस द्वारा भेजा गया था, जिसमें वसीम के मौत की खबर दी गई थी. सूत्रों के मुताबिक, इस घटना से सदमे में आए परिवार ने दो दिन पहले उस ई-मेल के बारे में पुलिस को जानकारी दी. उसका परिवार शास्त्रीपुरम कॉलोनी में रहता है.
 
वसीम की सगाई हैदराबाद की एक लड़की से हुई थी, जो डेंटल की पढ़ाई कर रही है. इस साल मार्च में सीरिया जाने से पहले अपने फैसले के बारे में उसने लड़की को भी बताया था. उसने उस लड़की से माफी मांगी और उसे कोई दूसरा जीवनसाथी ढूंढने की सलाह दी. इससे पहले उसने अपने परिवार को भी अपने फैसले से अवगत करा दिया था.
 
लेकिन सामाजिक कलंक के कारण न तो वसीम के माता-पिता ने और न ही उसकी मंगेतर ने किसी को यह बात बताई. पुलिस का मानना है कि करीमगंज जिले का एक युवक भी वसीम के साथ सीरिया गया था. खुफिया एजेंसियां उस युवक के बारे में सूचनाएं इकट्ठी करने में लगी है. (IANS)