नई दिल्ली. कॉरपोरेट जासूसी मामले में दिल्ली की एक अदालत ने मंगलवार को पूर्व पत्रकार शांतनु सैकिया सहित छह आरोपियों को जमानत दे दी. जमानत पाने वाले छह आरोपियों में एक वेब पोर्टल चलाने वाले पूर्व पत्रकार शांतनु सैकिया, रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के कॉरपोरेट मामलों के प्रबंधक शैलेश सक्सेना, एस्सार के उप महाप्रबंधक विनय कुमार, रिलायंस एडीएजी के उप महाप्रबंधक ऋषि आनंद, केर्न्‍स इंडिया के महाप्रबंधक के.के.नायक व रक्षा मंत्रालय के कर्मचारी वीरेंद्र कुमार शामिल हैं.

पिछले सप्ताह अदालत ने जुबिलंट एनर्जी के अधिकारी सुभाष चंद्रा को जमानत दे दी थी. पुलिस ने औपचारिक तौर पर 13 आरोपियों को धोखाधड़ी, जालसाजी, चोरी तथा आपराधिक साजिश से संबंधित विभिन्न धाराओं के तहत आरोपित किया है. मेलबर्न के ऊर्जा परामर्शदाता प्रयास जैन को भी दिल्ली पुलिस ने आरोपित किया है. 

इस मामले के अन्य आरोपियों में दिल्ली निवासी दो भाई लालता प्रसाद व राकेश कुमार, गाजियाबाद के राजकुमार चौबे, सरकारी कर्मचारी आशाराम व ईश्वर सिंह शामिल हैं. उल्लेखनीय है कि दिल्ली पुलिस ने बीते 17 फरवरी को विभिन्न मंत्रालयों से गोपनीय दस्तावेजों के लीक होने के मामले में एक प्राथमिकी दर्ज की थी.