श्रीनगर. श्रीनगर के बाहरी इलाके में 48 घंटे से चल रही मुठभेड़ सोमवार शाम समाप्त हो गयी जिसमें श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित एक सरकारी भवन में छिपे तीन हथियारबंद आतंकवादी मारे गए.

पम्पोर में घटना के बारे में पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि मुठभेड़ खत्म हो गयी है और जो तीन आतंकवादी भवन के अंदर छिपे थे वे मारे गए हैं.  अभियान की देखरेख कर रहे सेना के एक अधिकारी ने भी कहा कि इंटरप्रेन्योरशिप डेवलपमेंट इंस्टीट्यूट (ईडीआई) के पांच मंजिला भवन में तीन आतंकवादी मारे गए और उनसे हथियार एवं गोला-बारूद जब्त किए गए हैं.

भवन की सघन जांच की जा रही है जिसमें 44 कमरे, शौचालय और ऊपरी तल पर एक रेस्तरां है. शनिवार की शाम को आतंकवादियों के साथ शुरू हुई मुठभेड़ में पांच सुरक्षाकर्मी मारे गए जिसमें सेना के दो कैप्टेन थे. समझा जाता है कि ये आतंकवादी विदेशी मूल के हैं.

ऑपरेशन का जिम्मा संभाल रहे विक्टर फोर्स के जनरल ऑफिसर कमांडिंग मेजर जनरल अरविंद दत्ता ने कहा कि आतंकवादी विदेशी थे और संभवत: ‘‘आत्मघाती दस्ते’’ के थे. उन्होंने कहा कि मारे गए आतंकवादियों की अभी पहचान नहीं हो पाई है. दत्ता ने कहा कि लगता है कि भवन को निशाना बनाने के लिए पहले ही तय कर लिया गया था जहां वे सीआरपीएफ के काफिले पर हमला करने के बाद घुसे थे.