मुंबई. रिलायंस इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष मुकेश अंबानी ने कहा कि रिलायंस जियो इस साल यानी 2016 की दूसरी छमाही में 4जी दूरसंचार सेवाओं की व्यावसायिक शुरुआत के लिए तैयार रहेगी. इसके जरिए कंपनी 80 फीसदी भारतीयों को हाई-स्पीड मोबाइल इंटरनेट और वॉयस सेवा मुहैया कराने में सक्षम होगी.
 
अंबानी ने कहा, “हम लोग 2016 की दूसरी छमाही में इसकी शुरुआत के लिए तैयार रहेंगे. 80 फीसदी भारतीय आबादी के पास हाई-स्पीड मोबाइल ब्रॉडबैंड इंटरनेट की सुविधा रहेगी.” उन्होंने कहा, “भारत की एक अरब तीस करोड़ की आबादी में से 80 फीसदी के पास इस साल हाई-स्पीड मोबाइल इंटरनेट रहेगा. साल 2017 तक हम लोग 90 फीसदी आबादी को यह सुविधा मुहैया कराएंगे और 2017 तक पूरा भारत इस डिजिटल सुविधा के दायरे में आ जाएगा.”
 
रिलायंस जियो की 4जी सेवा अभी करीब एक लाख बीस हजार कर्मचारियों, उनके परिवारों और व्यावसायिक साझीदारों को उपलब्ध है. कंपनी ने दूरसंचार उद्योग में करीब 15 अरब डॉलर का निवेश किया है. 
 
अंबानी ने कहा कि वह मानते हैं कि दुनिया अभी सूचना और डिजिटल युग के प्रारंभिक दौर में है. अगले 20 सालों में हम लोगों ने जो पिछले 100 सालों में बदलाव देखे हैं उससे अधिक बदलाव नेटवर्क से पूर्ण समाज में देखेंगे.