रायपुर. उत्तर प्रदेश के गोरखपुर से बीजेपी सांसद योगी आदित्यनाथ ने इस बार कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा है. राहुल की तरफ से जेएनयू पर दिए गए बयान पर योगी ने कहा कि कांग्रेस को अपने उन पूर्वजों से सीखना चाहिए जिन्होंने देश की स्वतंत्रता के आंदोलन में भाग लिया था.

राहुल का बयान दुर्भाग्यपूर्ण और निंदनीय

योगी ने कहा कि जेएनयू मामले में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी का बयान दुर्भाग्यपूर्ण और निंदनीय हैय राहुल एक राष्ट्रीय दल का नेता जो राष्ट्रीय उपाध्यक्ष है. उनका नाम आतंकवादियों के महिमामंडन में शामिल होगा तब यह दुर्भाग्यपूर्ण है. यह राष्ट्र की एकता और अखंडता के लिए खतरनाक प्रवृत्ति भी है.

पूर्वजों से लेनी चाहिए शिक्षा: योगी

योगी ने आगे कहा कि कांग्रेस को अपने पूर्वजों से शिक्षा लेना चाहिए जिन्होंने देश की स्वतंत्रता के लिए आंदोलन में भाग लिया था. कांग्रेस को अपने उन नेताओं से प्रेरणा लेने की जरूरत है. देश के सम्मान को आंच नहीं आने दिया. राहुल गांधी को उन पाठशालाओं में भेजना चाहिए जहां वह उन मार्गदर्शकों के बारे में पढ़ सकें और सीख सकें.

सभ्य समाज नहीं कर सकता JNU घटना का समर्थन

इसके अलावा योगी आदित्यनाथ ने यह भी कहा कि जेएनयू में जो भी हुआ है उसे कोई भी सभ्य समाज या जिन्होंने भारत के संविधान की शपथ ली है समर्थन नहीं कर सकता है. सेक्यूलरिज्म का इससे बड़ा पाखंड दूसरा कोई नहीं हो सकता है कि जेएनयू में जो राष्ट्रविरोधी घटनाएं हुई है वह उसका विरोध नहीं कर रहा है.