पटना. पूर्व सांसद और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के अध्यक्ष लालू प्रसाद के साले साधु यादव के खिलाफ पाटलिपुत्रा बिल्र्डस प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक ने 50 लाख रुपये की रंगदारी मांगने का आरोप लगाया. इस संबंध में एफआईआर दर्ज कराई गई है. साधु ने आरोपों का खंडन किया है.
 
पुलिस के अनुसार, पाटलिपुत्रा बिल्र्डस प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक अनिल सिंह ने बुधवार शाम पटना के कोतवाली थाने में पूर्व सांसद साधु यादव के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई. उन पर 50 लाख रुपए की रंगदारी मांगने व ऐसा न करने पर जान से मारने की धमकी देने का आरोप है. 
 
पटना के थाना प्रभारी रमेश सिंह ने बताया कि दर्ज एफआईआर में बताया गया कि साधु यादव ने बुधवार को अनिल सिंह को फोन 50 लाख रुपये की रंगदारी मांगी. मामले की जांच जारी है. इधर, साधु यादव ने खुद पर लगे आरोप का यह कहते हुए खंडन किया कि उनके परिचित प्रेमचंद्र दिल्ली में रहते हैं. वह इंटीरियर डेकोरेटर हैं. प्रेमचंद ने अपने एक रिश्तेदार के लिए कुम्हार में बन रहे पाटलिग्राम में एक फ्लैट बुक कराया है. इसके एवज में अनिल को 60 लाख रुपये दिए गए. पैसे लेने के बाद भी वह उन्हें फ्लैट नहीं दे रहा है. 
 
उन्होंने कहा कि इस समस्या को लेकर प्रेमचंद्र बुधवार को उनके पास आए थे. इसके बाद उन्होंने फोन कर अनिल सिंह से फ्लैट देने का निवेदन किया था. पटना के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मनु महाराज ने गुरुवार को बताया कि मामले की जांच जारी है.