मुंबई. शीना बोरा हत्याकांड की प्रमुख आरोपी इंद्राणी मुखर्जी ने चिकित्सा के आधार पर सीबीआई अदालत से जमानत की मांग की. इंद्राणी के वकील ने 17 पेजों की जमानत याचिका में कहा है कि उसकी सेहत लगातार गिर रही है और पिछले महीनों में 18 किलोग्राम वजन घट गया है.
 
इंद्राणी को पिछले साल 25 अगस्त को उसके पूर्व पति संजीव खन्ना और पूर्व ड्राइवर श्यामवर राय के साथ गिरफ्तार किया गया था. वह पिछले लगभग छह महीनों से पुलिस और न्यायिक हिरासत में है.
 
पिछले साल 19 नवंबर को उसके पति और पूर्व मीडिया मुगल पीटर मुखर्जी को भी इस हत्याकांड के सिलसिले में गिरफ्तार कर लिया गया था और वह इस समय आर्थर रोड केंद्रीय कारागार में न्यायिक हिरासत में है. खन्ना और राय भी यहीं कैद हैं.
 
इंद्राणी की जमानत याचिका में चार दर्जन चिकित्सा दस्तावेज नत्थी किए हुए हैं. याचिका में कहा गया है कि उसकी सेहत घातक स्थिति में पहुंच गई है और उसके मस्तिष्क में आक्सीजन की आपूर्ति बाधित हो सकती है, जिसके कारण उसे कभी भी मस्तिष्काघात हो सकता है.
 
याचिका में कहा गया है कि भायखला महिला कारागार से अस्पताल पहुंचने में लगभग एक घंटे लगते हैं, जहां इंद्राणी फिलहाल कैद हैं. याचिका में कहा गया है कि पिछले साल दो अक्टूबर को जब वह जेल में बेहोश होकर गिर पड़ी थी, तब लगभग छह घंटे से अधिक समय बाद इलाज शुरू हो पाया था.
 
बता दें इंद्राणी की बेटी शीना (24) की 24 अप्रैल, 2012 को हत्या कर उसके शव को जलाकर अवशेष रायगढ़ के पास जंगल में फेंक दिया गया था.