पटना. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने स्मार्ट सिटी के मुद्दे पर केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है कि स्मार्ट सिटी योजना में बिहार और उत्तर प्रदेश की अनदेखी की गई है. इस अनदेखी के बाद राज्यों में भेदभाव बढ़ेगा.

नीतीश ने कहा है कि स्मार्ट सिटी के चयन की जो प्रक्रिया है उससे बिहार और यूपी को बाहर रखा गया है इससे राज्यों में भेदभाव बढ़ेगा. उन्होंने कहा कि कम से कम हर राज्य की राजधानी को स्मार्ट सिटी के दायरे में लाना चाहिए था.

नीतीश ने कहा कि इस प्रक्रिया में बदलाव करके बिहार और यूपी के शहरों को भी शामिल किया जाए. उन्होंने ये भी कहा कि स्मार्ट सिटी के लिए सिर्फ 100 करोड़ रूपए बहुत कम राशी है.

ये हैं पहले 20 स्मार्ट शहर, बिहार-उत्तर प्रदेश शामिल नहीं

1. भुवनेश्वर – उड़ीसा
2. पुणे – महाराष्ट्र
3. जयपुर – राजस्थान
4. सूरत – गुजरात
5. कोच्चि – केरल
6. अहमदाबाद – गुजरात
7. जबलपुर – मध्यप्रदेश
8. विशाखापत्तनम –आंध्रप्रदेश
9. सोलापुर – महाराष्ट्र
10. दावणगेरे – कर्नाटक
 
11. इंदौर – मध्यप्रदेश
12. नई दिल्ली म्यूनिशीपल कॉरपोरेशन – दिल्ली 
13. कोयंबतूर – तमिलनाडु
14. काकीनाडा – आंध्रप्रदेश
15. बेलगांव – कर्नाटक
16. उदयपुर – राजस्थान
17. गुवाहाटी– असम
18. चेन्नई – तमिलनाडु
19.लुधीयाना – पंजाब
20.भोपाल – मध्यप्रदेश