नई दिल्ली. वैश्विक बाजारों में कच्चे तेल की बढती कीमतों के मद्देनजर पेट्रोल के दाम 3.96 रूपये प्रति लीटर व डीजल के दाम 2.37 रपये प्रति लीटर बढ गए हैं. यह बढोतरी बीती रात्रि से लागू हो गई है. पेट्रोल-डीजल की कीमतें बढ़ने पर आरजेडी प्रमुख लालू यादव ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. आरजेडी प्रमुख लालू यादव ने ट्विटर पर लिखा, “भूकंप से भी ज्यादा झटका दिया मोदी सरकार ने, पेट्रोल-डीजल के दामों में बेतहाशा बढ़ोतरी. नसीब कहां गया? तेल लेने….”
 
उधर कांग्रेस ने पेट्रोल और डीजल के दामों में की गई भारी वृद्धि को बीती रात तत्काल वापस लेने की मांग की और सरकार पर आरोप लगाया कि वह भोले-भाले किसानों और आम आदमी की कीमत पर मुनाफा कमा रही है. पार्टी के मीडिया विभाग के प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा पेट्रोल और डीजल की कीमतों में वृद्धि एक और ऐसा कदम है जो जनोन्मुखी शासन से दूर होने को दर्शाता है.
 
उन्होंने कहा, ‘‘उत्पाद शुल्क और सीमाशुल्क राजस्व का समायोजन करने की बजाय सरकार भोले-भाले किसानों और आम आदमी की कीमत पर मुनाफा कमा रही है. उत्पाद शुल्क और सीमा शुल्क की वजह से राजस्व में 90 हजार करोड़ रपये की अतिरिक्त वृद्धि हुई है.’’

IANS