तिरुवनंतपुरम. सोलर स्कैम में घिरे केरल के मुख्यमंत्री ओमन चांडी को फिलहाल हाईकोर्ट से बड़ी राहत मिली है. हाईकोर्ट ने चांडी के खिलाफ FIR दर्ज करने के त्रिशुर अदालत के निर्देश पर 2 महीने की रोक लगा दी है. चांडी ने त्रिशुर अदालत के फैसले के खिलाफ हाईकोर्ट में अर्जी दाखिल की थी.

वहीं, चांडी के खिलाफ तिरुवनंतपुर में बीजेपी कार्यकर्ता प्रदर्शन कर रहे हैं. इन प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे हैं.

मुख्य आरोपी सरिता ने लगाए कई आरोप

गुरुवार को सोलर स्कैम की मुख्य आरोपी सरिता नायर ने केरल के मुख्यमंत्री ओमन चांडी पर ताज़े आरोप लगाए हैं. सरिता ने आरोप लगाया है कि मुख्यमंत्री और केरल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के नेताओं ने 2013 में उनकी मां को फोन कर मामले की जानकारी सार्वजनिक नहीं करने को कहा था. इन नेताओं ने यह भी कहा कि सरिता से लिए पैसे वापस कर दिए जाएंगे.

सरिता ने केरल प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता थंपा नूर रवि और विधायक बेनी बेहनन का नाम भी लिया. सरिता ने इससे पहले आरोप लगाया है कि वह सीएम ओमन चांडी से उनके घर पर मिली थीं, लेकिन चांडी इससे इनकार करते रहे हैं.

त्रिशुर कोर्ट ने दिए थे आदेश

ओमन चांडी के खिलाफ त्रिशुर की अदालत ने एफआईआर  के आदेश दिए थे. इस मामले में आरोपी सरिता नायर ने न्यायिक कमीशन के सामने कहा था कि उनसे सीएम के करीबी ने 7 करोड़ रुपये मांगे थे और उन्होंने 1 करोड़ 90 लाख रुपये दिए.