अहमदनगर. महाराष्ट्र के अहमदनगर में शनि मंदिर के अंदर महिलाओं के प्रवेश करने को लेकर आंदोलन कर रही महिलाओं से मंदिर का ट्रस्ट बातचीत करने को राजी हो गया है.
 
माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस के बोलने के बाद मंदिर का ट्रस्ट बातचीत को राजी हुआ है. मंदिर के ट्रस्ट का कहना है कि वह भूमाता बिग्रेड की महिलाओं से शांति से बातचीत करेगा. बातचीत के लिए भूमाता ब्रिगेड को न्योता भेजा जाएगा.
 
सीएम फड़णवीस ने इस मामले पर कहा कि शनि मंदिर में महिलाओं को पूजा करने की इजाजत देने पर चर्चा की जानी चाहिए क्योंकि हमारी परंपराओं में महिलाओं को हमेशा उपासना की आजादी है.
 
भूमाता ब्रिगेड की महिलाओं ने किया प्रदर्शन
 
विरोध के दौरान यहां मंगलवार को लगभग 500 महिला प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया गया था क्योंकि इन महिला कार्यकर्ताओं की योजना थी कि वे मंदिर के सबसे भीतरी हिस्से में जबर्दस्ती प्रवेश कर सकें. मंदिर के इस हिस्से में एक खुले प्लेटफॉर्म पर भगवान शनि के प्रतीक रूप में पवित्र माने जाने वाले काले रंग के एक पत्थर को प्रतिष्ठापित किया गया है.
 
ये महिला कार्यकर्ता मंगलवार को ही पुणे से छह बसों में भरकर रवाना हुई थीं, और उनका कहना था कि वे अहमदनगर के इस मंदिर में कई शताब्दियों से चली आ रही महिलाओं के भीतरी हिस्से में प्रवेश पर रोक की परंपरा को खत्म करना चाहती हैं.