नई दिल्ली. गणतंत्र दिवस से पहले गृह मंत्रालय ने दिल्ली पुलिस को एयर इंडिया फ्लाईट को लेकर अलर्ट जारी किया है. खबर है कि आईएसआई एक बार फिर से ‘कंधार विमान अपहरण कांड’ दोहराने की साजिश रच रही है. गृह मंत्रालय के इस अलर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई दिल्ली से काबुल जाने वाली एयर इंडिया की फ्लाइट को हाईजैक करवा सकती है या फिर उसमें धमाका कर सकती है.
 
आईबी को मिली इस खुफिया सूचना के बाद दिल्ली पुलिस समेत तमाम सुरक्षा एजेंसियों को इसके मद्देनजर अलर्ट कर दिया गया है जिससे इस तरह की किसी भी साजिश को नाकाम किया जा सके.
 
आतंकवादी संगठनों के सम्पर्क में ISI 
बता दें कि इस तरह की फ्लाइट में भारत के वरिष्ठ अधिकारी यात्रा करते हैं. ऐसे में आईएसआई हमले करवाने के लिए लगातार आतंकवादी संगठनों के संपर्क में बना हुआ है.
 
अफगानिस्तान की मदद से तिलमिलाया पाक
माना जा रहा है कि अफगानिस्तान को आगे बढ़ाने में और उसे फिर से स्थापित करने और वहां शांति बनाने में भारत जिस तरह से साझेदारी कर रहा है वो पाकिस्तान को रास नहीं आ रहा है. ऐसे में काबुल में भी कई बार भारतीय दूतावास पर हमले किए गए हैं. बता दें कि पाकिस्तान को अफगानिस्तान में भारत की मदद करना कभी रास नहीं आया. ऐसे में खुफिया एजेंसी को मिले इन अलर्ट को उससे जोड़ कर देखा जा सकता है.
 
कंधार  विमान कांड
बता दें कि इससे पहले 24 दिसम्बर 1999 में काठमांडू से दिल्ली आ रहे इंडियन एयरलाइंस के एक जहाज को रास्ते में ही 5 पाकिस्तानी आतंकवादियों ने अपहृत कर लिया. काठमांडू में सुरक्षा व्यवस्था में हुई ढील का फायदा उठाकर वे छोटे हथियार विमान में ले जाने में सफल हो गये. जहाज में उस समय 178 यात्री और 15 कर्मचारी थे, जिनमें से अधिकांश भारतीय थे. अपहरण के बाद आतंकवादियों ने जबरन विमान के पहले अमृतसर फिर लाहौर और अंत में अफगानिस्तान के कंधार हवाई अड्डे पर उतारवाया. जहां आतंकवादियों की मांगें सामने आयीं. वे कई आतंकवादियों की रिहाई चाहते थे, जो भारत की जेलों में बन्द थे.