लखनऊ. केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को कहा कि स्कूलों में बच्चों को पढ़ाए जाने की शिक्षा पद्धति का स्तर काफी बिगड़ा हुआ है. उन्होंने कहा कि बच्चों को जो पढ़ाया जा रहा है उसमें उन्हें संस्कार देने भी की बहुत जरुरत है.
 
शिक्षा के स्तर को बढ़ाने पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि अगर ऐसा होगा तभी भारत विश्व गुरु बन पाएगा साथ ही प्रेरणा के स्रोत भी बढ़ेंगे.
 
राजनाथ जानकीपुरम में सरस्वती बालिका विद्दालय के शिलान्यास में बतौर मुख्य अतिथि बन कर पहुंचे थे जहां उन्होंने हाईटेक्नोलॉजी का शिक्षा ले रहे बच्चों के सांस्कृतिक ज्ञान का ध्यान रखने के लिए भी कहा.
 
राम मंदिर मुद्दे पर चुप्पी साधी
 
इस मौके पर राम मंदिर आंदोलन से जुड़े अयोध्या की छोटी छावनी के महंत नृत्यगोपाल दास ने बतौर विशिष्ट अतिथि अपने सम्बोधन में मंदिर निर्माण का मुद्दा उठाया. उन्होंने कहा कि अब तो केंद्र में हमारी सरकार है. सरकार के केंद्र में होने के बावजूद लेकिन उनके बाद बोलने के लिए खड़े हुए गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने इस मुद्दे पर कोई टिप्पणी नहीं की.