जम्मू. जम्मू एवं कश्मीर में अमरनाथ यात्रा दो जुलाई से शुरू होगी. सालाना तीर्थयात्रा कुल 48 दिन तक चलेगी. श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड (एसएएसबी) ने एक बयान में यह जानकारी दी है. उन्होंने कहा, “श्रद्धालुओं की सुरक्षा को सर्वाधिक महत्व देते हुए, बोर्ड ने यात्रा की अवधि 48 दिन रखने का फैसला किया है. यह 2 जुलाई को मासिक शिवरात्रि के पावन दिन शुरू होगी और 18 अगस्त को श्रावण पूर्णिमा (रक्षा बंधन) के दिन समाप्त होगी.”
 
बोर्ड के अध्यक्ष राज्यपाल एन.एन.वोहरा ने नई दिल्ली में हुई बोर्ड की 30वीं बैठक की अध्यक्षता की. बयान में कहा गया है कि 2016 की यात्रा में प्रतिदिन प्रति रूट के लिए 7500 श्रद्धालु पंजीकृत किए जाएंगे.
 
जानकारी के अनुसार यात्रा परमिट के आवेदन से पहले संबंधित राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा नामित चिकित्सकों/अस्पतालों से अनिवार्य स्वास्थ्य प्रमाणपत्र (सीएचसी) लेना होगा.