चंडीगढ़. देश में चुनावी रणनीति बनाने के माहिर प्रशांत किशोर मोदी, नीतीश के बाद अब पंजाब विधानसभा चुनाव में  कांग्रेस के लिए प्रचार करेंगे. प्रशांत किशोर ने खुद इस बात की पुष्टि की है. प्रशांत ने कहा है कि मैं पंजाब विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के लिए कैप्टन अमरिंदर सिंह के चुनाव की कमान संभालूंगा.
 
कांग्रेस एक दशक से पंजाब में सत्ता से बाहर है और इस बार वह सत्ता में वापसी की पुरजोर कोशिश में जुटी है. इसी के मद्देनजर राज्य में पार्टी की बागडोर भी कैप्टन अमरिंदर सिंह को सौंप दी गई है. 
 
पंजाब कांग्रेस के प्रमुख अमरिंदर सिंह ने प्रशांत किशोर से बातचीत कर उन्हें चुनावी रणनीति बनाने की कमान सौंप दी है. इस मुलाकात में मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के भतीजे मनप्रीत बादल ने भी अहम भूमिक निभाई है. मनप्रीत बादल ने अभी हाल ही में अपनी पंजाब पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) का कांग्रेस में विलय किया था. 
 
पंजाब कांग्रेस के प्रधान कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने कहा कि प्रशांत के साथ पिछले हफ़्ते बातचीत हो चुकी है. उसने कहा कि हमारी टीम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए 5 महीने पहले प्रचार किया था और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लिए 3 महीने पहले काम शुरू किया था. कैप्टन ने कहा कि प्रशांत पंजाब में कांग्रेस के लिए जुलाई से काम शुरू करेंगे. प्रशांत किशोर आने वाले दिनों में अपनी टीम से पंजाब का सर्वेक्षण करवाएंगे. इसके बाद वह रणनीति तैयार करेंगे.