लखनऊ. यूपी सरकार ने उर्दू टीचर के लिए 3500 नौकरियां निकाली हैं लेकिन इस नौकरी के लिए अप्लाई करने से पहले सरकार का नोटिस पढ़ लें. नोटिस में कहा गया है कि एक से अधिक पत्नी वालों को भर्ती नहीं किया जाएगा.
 
अखिलेश यादव सरकार ने उर्दू शिक्षकों की भर्ती के लिए आवेदन मंगवाए हैं. इसके तहत 3500 पदों पर भर्ती होने वाली है. सरकार के नोटिस में कहा गया है कि अगर किसी भी कैंडिडेट की एक से ज्यादा पत्नी हैं तो वह उर्दू शिक्षक नहीं बन सकता.
 
महिला उम्‍मीदवार पर भी लागू होगा नियम
इस नोटिस में यह भी कहा गया है कि ऐसी महिला उम्‍मीदवार जिन्होंने ऐसे व्यक्ति से शादी की हो जिसकी दो पत्नियां हों और पहली पत्नी जीवित हों, वो भी इस पद के लिए आवेदन नहीं कर पाएंगी.
 
क्या कहते हैं सरकारी अधिकारी?
अधिकारियों का कहना है कि यह नियम विधवा पेंशन को लेकर किसी भी तरह का संशय न रहे, इसलिए बनाया गया है. बता दें कि यूपी सरकार के आदेश में साफ किया गया है कि उम्मीदवारों को वैवाहिक स्थिति के बारे में बताना होगा. 
 
इमामों ने फैसले पर जताया विरोध
कई इमामों ने सरकार के इस फैसले पर विरोध जताया है. एक सरकारी स्कूल में पढ़ाने की चाहत रखने वाले मुस्लिम शख्स का कहना है कि उनका धर्म उन्हें चार शादियां की इजाजत देता है. इस नियम का उद्देश्य मुस्लिमों की भर्ती रोकने जैसा है.