नई दिल्ली. सीरिया के शहर रक्का में इस्लामिक स्टेट के एक आतंकी ने सरेआम अपनी मां का कत्ल सिर्फ इस वजह से कर दिया क्योंकि उसकी मां ने उसे आईएस छोड़ देने को कहा था. 
 
महिला ने अपने बेटे को चेतावनी दी थी कि जल्द ही अमेरिका की सेना इस्लामिक स्टेट को जड़ से उखाड़ फेंकेगी. इतना ही नहीं मां ने बेटे को अपने साथ शहर छोड़ने की भी सलाह दी थी. 
 
रिपोर्ट्स के मुताबिक जब युवक ने अपनी मां की कही इन बातों को अपनी संस्था में बताया तो उसकी मां को अगवा कर लिया गया. स्थानीय सूत्रों ने बताया कि 20 साल के इस आतंकी ने बुधवार को सैकड़ों लोगों के सामने अपनी मां को मौत के घाट उतार दिया वो भी उसी पोस्ट ऑफिस के सामने जहां उसकी मां काम करती थी.
 
बता दें कि 18 महीने पहले इस आतंकवादी संगठन ने सीरिया और ईराक के आस-पास के इलाकों पर कब्जा कर अपनी हुकूमत घोषित कर दी थी. बाद में इसके सदस्यों ने समलैंगिकता, जादू-टोना और धर्म परिवर्तन के नाम पर लोगों की हत्याएं करनी शुरू कर दी थी. निगरानी संस्था की रिपोर्ट के अनुसार इस्लामिक स्टेट ने पिछले 18 महीनों में 2000 से ज्यादा लोगों की जान ली है.