नई दिल्ली. पठानकोट एयरबेस पर हुए आतंकी हमले को लेकर कांग्रेस पार्टी ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. कांग्रेस ने मोदी सरकार से अपनी विदेश नीति साफ करने की मांग की है. कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने 5 सवालों के जवाब केंद्र सरकार से मांगे हैं. कांग्रेस ने मोदी से पूछा है कि उनके पाकिस्तान जाने का क्या मतलब निकाला जाए. 
 
कांग्रेस ने कहा कि देश के नए साल की शुरूआत दहशत के साए में हुई. आतंकवादियों ने देश पर हमला किया. केवल पठानकोट ही नहीं अफगानिस्तान के मजार ए शरीफ स्थित वाणिज्यिक दूतावास पर भी आतंकी हमला किया गया. कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने सरकार से पूछा है कि आखिर बैंकाक में NSA की बैठक में क्या बातचीत हुई जिससे दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय वार्ता के लिए रास्ता साफ हुआ. 
 
ये हैं कांग्रेस के सवाल:
1. अगस्त में दोनों देशों के NSA की बातचीत रद्द हुई, फिर वे बैंकॉक में मिले. बैंकॉक में हुई मुलाक़ात में भारत पर फिर हमले की स्थिति में क्या कदम उठाने पर सहमति बनी थी?
2. आखिर क्या सोचकर प्रधानमंत्री अचानक लाहौर दौरे पर चले गए?
3. क्या इस बात की कोई पुष्टि की गई थी कि मोदी की लाहौर यात्रा पर पाकिस्तानी सेना और ख़ुफ़िया एजेंसी आईएसआई ने भी ख़ुशी जताई थी?
4. पीएम के लाहौर दौरे के दौरान पाकिस्तान के NSA मौजूद क्यों नहीं थे?
5. मुंबई हमले के बाद पाकिस्तान ने दोषियों पर कोई भी कार्रवाई नहीं की है. इसके बावजूद किस आधार पर बातचीत शुरू की गई है?