पठानकोट. पठानकोट में आतंकी हमले के बाद पंजाब में बीएसएफ की मौजूदा ताकत को कम बताते हुए राज्य के उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने राज्य में इसे और मजबूत बनाने के लिए केंद्र से आग्रह किया है.
 
सुखबीर ने कहा, “बीएसएफ की ताकत पर्याप्त नहीं है. यह (पंजाब) शांतिपूर्ण राज्य है, इसलिए यहां बीएसएफ कम संख्या में है. हम इसकी ताकत में इजाफा चाहते हैं. खासकर इसलिए भी क्योंकि यह इलाका जम्मू-कश्मीर की सीमा से लगता है. इसी एक सेक्टर से पंजाब में घुसपैठ की दो बड़ी घटनाएं हो चुकी हैं.”
 
बता दें कि पठानकोट पर हमले से पहले पाकिस्तानी आतंकियों ने 27 जुलाई 2015 को गुरदासपुर के दीनानगर में हमला किया था जिसमें सात लोगों की मौत हुई थी.
 
सुखबीर पंजाब के गृहमंत्री भी हैं. उन्होंने कहा कि राज्य में भविष्य में किसी आतंकी खतरे से निपटने के लिए पंजाब पुलिस की ‘रक्षा की दूसरी पंक्ति’ बनानी जरूरी है.
 
सुखबीर ने कहा, “त्वरित कार्रवाई के लिए पठानकोट में अब एक नई पुलिस लाइन और कमांडो बटालियन होगी. इसके अलावा एसडब्ल्यूएटी (स्पेशल वीपन्स एंड टैक्टिक्स) त्वरित कार्रवाई टीम भी यहां तैनात होगी.” उन्होंने कहा कि राज्य में घुसपैठ रोकने के लिए केंद्र से बेहतर तकनीक उपलब्ध कराने के लिए कहा जाएगा.