नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज आकाशवाणी पर प्रसारित ‘मन की बात’ में भूकंप की त्रासदी झेल रहे नेपाल के प्रति दुख व्यक्त किया और हर संभव मदद का आश्वासन दिया है. मोदी ने कहा, ‘मैंने कच्छ भूकंप को निकट से देखा है. यह आपदा कितनी भयानक हो सकती है, उसकी कल्पना कर सकता हूं. नेपाल के भाइयों बहनों आपकी मदद के लिए भारत हमेशा आपके साथ है.’

उन्होंने कहा, ‘सबसे पहला काम है राहत कार्य, लोगों को बचाना, एक्सपर्ट लोगों की टीम भेजी गई है. इस आपदा के समय हर नेपाली के आंसू भी पोछेंगे, उनका साथ भी देंगे. उन लोगों का दुख भी हमारा दुख है. मलबे के नीचे जो जीवित दबे हैं उन्हें जिंदा बाहर निकालना पहला काम है. सवा सौ करोड़ देशवासियों के लिए नेपाल अपना है.’

मोदी ने भारत की ओर से चलाए जा रहे राहत एवं बचाव अभियान के बारे में कहा, ‘लोगों की टीम भेजी है. विशेष रूप से प्रशिक्षित स्निफर डॉग्स भेजे गए हैं. रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद रीलीफ और उसके बाद रीहैबिलिटेशन का काम भी चलाना है. मानवता का भी कितनी बड़ी ताकत होती है.’

IANS