श्रीनगर. दुख्तरन-ए-मिल्लत की फाउंडर और कश्मीर की अलगाववादी नेता असिया अंद्राबी ने न्यू ईयर में होने वाले कार्यक्रम का विरोध किया है. असिया ने इसे राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ का कार्यक्रम बताते हुए कहा कि वह ऐसे किसी भी कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगी.

नए साल का जलसा कश्मीर की संस्कृति नहीं है. उन्होंने कहा,”यह सब इवेंट कश्मीर की संस्कृति पर हमला है. इस कार्यक्रम में आर्ट और म्यूजिक के नाम पर बेशर्म बॉलीवुड ऐक्टर्स बुलाए जाते हैं और कश्मीर की संस्कृति को खराब करने की कोशिश की जाती है.” बता दें कि असिया पाकिस्तान की समर्थक मानी जाती है. उनके पति भी आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन से संबंध रखने के जुर्म में जेल में बंद हैं.