नई दिल्ली. राष्ट्रीय विमानन कंपनी एयर इंडिया ने शनिवार को साफ किया कि उसने अपनी 60 से 90 मिनट की घरेलू उड़ानों में नॉन वेजिटेरिअन परोसना बंद नहीं किया है, बल्कि इससे पहले भी कम दूरी की उड़ानों में नॉन वेजिटेरिअन नहीं परोसा जाता था.
 
एयर इंडिया ने साफ किया कि 90 मिनट से कम की उड़ान में पहले भी वेजिटेरिअन खाना मिलता था. सभी नियम पहले जैसे ही हैं, केवल ठंडे वेजिटेरिअन स्नैक्स की जगह गर्म वेजिटेरिअन भोजन परोसने का फैसला किया गया है.
 
एयर इंडिया ने शनिवार को जारी एक बयान में कहा, “60 से 90 मिनट की घरेलू उड़ान की इकॉनॉमी क्लास में अब गर्म वेजिटेरिअन खाना मिलेगा. यह नियम एक जनवरी, 2016 से लागू किया जाएगा.” एयर इंडिया के इस फैसले के बाद देशभर में बहस छिड़ गई थी और कई लोगों ने इस फैसले की आलोचना की थी.
 
एयर इंडिया ने साथ ही कहा, “यात्रियों की प्रतिक्रिया के बाद इसकी समीक्षा की जाएगी. हालांकि 90 मिनट से लंबी दूरी की उड़ानों में पहले की ही तरह वेजिटेरिअन और नॉन वेजिटेरिअन दोनों का विकल्प मौजूद रहेगा.”
 
नागर विमानन राज्यमंत्री महेश शर्मा ने कहा कि अबतक जो व्यवस्था चल रही थी उसमें कोई बदलाव नहीं किया गया है. केवल अपग्रेडेशन किया गया है. स्नैक्स के अलावा कुछ गर्म खाने शुरू किए हैं. वेजिटेरिअन या नॉन वेजिटेरिअन को लेकर कोई विवाद नहीं है. जाड़े के देखते हुअ गर्म खाना देने की शुरुआत की जा रही है.