नई दिल्ली. भारतीय रेल ने क्रिसमस के दिन यानी 25 दिसंबर से तत्काल टिकट में किराए की वृद्धि का फैसला किया है. रेलवे की अधिसूचना के अनुसार तत्काल कोटा के तहत स्लीपर क्लास में टिकट रिजर्वेशन कराने वाले यात्रियों से 175 रूपए की बजाय 200 रूपए, एसी-थ्री में अधिकतम 350 रूपए की जगह 400 रूपए और न्यूनतम 250 रूपए की जगह 300 रूपए लिए जाएंगे.
 
स्लीपर क्लास न्यूनतम तत्काल शुल्क 90 रूपये था जिसे बढ़ाकर 100 रूपये कर दिया गया है. न्यूनतम और अधिकतम शुल्क यात्रा की दूरी पर निर्भर करता है. एसी-टू के यात्रियों को अब न्यूनतम 300 रूपये के स्थान पर 400 रूपये देना होगा वहीं अधिकतम 400 रूपये की जगह पर 500 रूपये खर्च करना होगा.
 
एक्जीक्यूटिव श्रेणी में न्यूनतम तत्काल शुल्क को 300 रूपये से बढ़ाकर 400 रूपये जबकि अधिकतम शुल्क को 400 रूपये से बढ़ाकर 500 रूपये कर दिया गया है. हालांकि सेकेंड क्लास के तत्काल शुल्क में कोई परिवर्तन नहीं किया गया है और यह दूरी के आधार पर न्यूनतम 10 रूपए और अधिकतम 15 रूपए है. रेलवे के अनुसार, नए किराए के समायोजन के लिए क्रिस (सीआरआईएस) सॉफ्टवेयर में परिवर्तन करेगा.
 
हाल ही में रेल मंत्री सुरेश प्रभु को रेलवे में किए जा रहे उनके प्रयासों के लिए काफी सराहना भी मिल रही थी. लेकिन प्रभू के मंत्रालय ने अब तत्काल टिकट का किराया बड़ाकर यात्रियों को नए साल से ठीक पहले एक बड़ा झटका दिया है.