नई दिल्ली. दिल्ली-एनसीआर की सबसे अहम सड़क NH 24 को केंद्र सरकार 14 लेन का बनाने जा रही है और उसके बाद इस पर चलने के लिए टोल टैक्स देना होगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 31 दिसंबर को इस प्रोजेक्ट की नींव रखेंगे. सड़क बन जाने के बाद मेरठ, हापुड़ और गाजियाबाद से दिल्ली आने वालों को बड़ी राहत मिलेगी.
 
प्रधानमंत्री मोदी 31 दिसंबर को आधारशिला रखने के बाद एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे. प्रोजेक्ट पूरा होने के बाद NH 24 दिल्ली के निजामुद्दीन ब्रिज से गाजियाबाद के डासना तक 14 लेन का होगा. डासना से हापुड़ पहुंचने पर यह 8 लेन का हो जाएगा और फिर हापुड़ से मेरठ तक हाइवे 6 लेन का होगा.
 
हाइवे को बनाने के लिए सरकार ने तीन साल का अनुमानित समय रखा है. हाइवे निर्माण का यह काम तीन चरणों में पूरा होगा. इस हाइवे पर चलने के लिए टोल टैक्स चुकाना होगा. सूत्रों का कहना है कि हाइवे पर इलेक्ट्रॉनिक टोल लगाए जाएंगे.