नई दिल्ली. पेट्रोल और डीजल की कीमतों को कम करने को लेकर आज तेल कंपनियों की बैठक होगी. इस बैठक में अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में आ रही गिरावट के कारण पेट्रोल और डीजल की कीमतों को कम करने पर फैसला लिया जा सकता है.
 
रिपोर्ट के अनुसार  इस बैठक में पेट्रोल 4 रुपए तक सस्ता किया जा सकता है. पेट्रोलियम और गैस मंत्रालय के अनुसार कुछ दिनों पहले भारतीय बास्केट में कच्चे तेल का औसत दाम 41.17 डॉलर प्रति बैरल था और चार दिन पहले यह घटकर 36.65 डॉलर प्रति बैरल हो गया.
 
बता दें केन्द्र में मोदी की सरकार बने 18 महीने हो गए हैं. इस दौरान क्रूड ऑयल 57% सस्ता हुआ लेकिन18 महीने में सरकार की कमाई पेट्रोल पर 101% और डीजल पर 200% बढ़ी क्योंकि सरकार ने पांच बार पेट्रोल-डीजल पर ड्यूटी बढ़ाई गई.
 
अगर पेट्रोल-डीजल के दाम कम करने पर तेल कंपनिंयों के फैसले पर केंद्र सरकार क्साइज़ ड्यूटी नहीं बढ़ाती है तो पेट्रोल की कीमत तीन से चार रुपये तक कम हो सकती है.