मुंबई. पेंटर हेमा उपाध्याय और उनके वकील हरीश भंबानी की हत्या के मामले में पुलिस को नए सुराग मिले हैं. पुलिस का कहना है कि हेमा अपनी पेंटिंग्स गोटू नाम के आदमी के पास रखती थीं और बीते कुछ दिनों से इनके बीच पांच लाख रुपये के लेन देन को लेकर विवाद चल रहा था. फिलहाल गोटू फरार है इसी के चलते पुलिस हत्या की वजह पैसों के इस लेन देन को भी मान रही है.
 
बता दें कि रविवार को मुंबई के कांदिवली इलाके के गटर में से दो लाशें संदिग्ध रुप से पायी गयीं थी. लाश की शिनाख्त हेमा और उनके वकील हरीश भम्बानी के रूप में की गयी. लाशों को प्लास्टिक से बांध कर रखा गया था.
 
साल 2013 में हेमा ने अपने पति चिंतन के ख़िलाफ़ उत्पीड़न का मामला दर्ज कराया था. हेमा का आरोप था कि उनके पति कमरे की दीवारों पर अश्लील तस्वीरें बनाते हैं. इस मुकदमे में हेमा के वकील भम्बानी ही थे. इस वजह से पुलिस का शक हेमा के पति पर भी है. चिन्तन समेत तीन लोगों को हिरासत में लेकर पुलिस की पूछताछ जारी है.