नई दिल्ली. निर्भया कांड के नाबालिग आरोपी को भाजपा नेता सुब्रह्मण्यम स्वामी ने ‘जानवर’ बोलते हुए कहा है कि इस तरह के अपराधी को छोड़ना खतरनाक हो सकता है साथ ही कोर्ट से ऐसे गंभीर मामलों के लिए अलग से प्रावधान लाने की अपील की है. 
 
स्वामी ने कहा कि ” इस तरह का जघन्य अपराध करने वाले नाबालिग आरोपी को जानवरों के साथ रखना चाहिए. ऐसे लोगों को मुक्त करना ठीक नहीं है. हमारे कानून में कुछ दोष भी हैं. किशोर क़ानून सिर्फ छोटे अपराधों जैसे खाना या साइकिल चोरी के लिए लागू होता है ना कि इस तरह के जघन्य अपराधों के लिए. क़ानून में इस तरह का कोई प्रावधान नहीं है कि अगर इस तरह के आरोपी तीन सालों में भी नहीं सुधरते हैं तो उनके खिलाफ क्या कदम उठाये जाने चाहिए.”
 
उन्होंने कहा कि ”इंडियन इंटेलिजेंस ब्यूरो की रिपोर्ट के मुताबिक़ निर्भया काण्ड का आरोपी जिहादी बन चुका है इसलिए कोर्ट को इस मामले में दखल देकर कुछ निश्चित प्रावधान बनाने चाहिए साथ ही सरकार को कोर्ट की मदद से उस पर रासुका के तहत कार्यवाही की जानी चाहिए. मैं खुद कोर्ट जा रहा हूं और कोर्ट ही यह फैसला करेगी कि क्या सही है.”