पणजी. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत ने रविवार को कहा कि बी.आर. अंबेडकर और आरएसएस के संस्थापक के.बी. हेडगेवार एक समान हैं और उन्होंने हमेशा देश को सर्वोपरि माना. भागवत पणजी के बाहरी इलाके बम्बोलिम में के.बी. हेडगेवार स्कूल के नवनिर्मित परिसर का उद्घाटन करने पहुंचे थे.
 
भागवत ने कहा, “अंबेडकर जैसा ज्ञान कुछ ही लोगों के पास हो सकता है. हमारे संविधान की रचना में उनकी सबसे बड़ी भूमिका है. उन्होंने अपने समुदाय के हजारों लोगों को दासता से मुक्ति दिलाई.”
 
भागवत ने कहा, “उन्होंने विपरीत परिस्थितियों में पढ़ाई की. जीतोड़ मेहनत की लेकिन उन्होंने अपनी प्रतिभा का उपयोग अपने लिए नहीं बल्कि देश व समाज के लिए किया.” भागवत ने कहा कि बाबासाहेब अंबेडकर की तरह केशव बलिराम हेडगेवार ने भी बचपन से ही भारत को सही पथ पर आगे बढ़ाने की दिशा में नि:स्वार्थ भाव से काम किया.