नई दिल्ली. पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के लिए जासूसी करने के मामले में दिल्ली पुलिस ने जम्मू एवं कश्मीर के राजौरी जिले से एक स्कूल शिक्षक को गिरफ्तार किया है. पुलिस का कहना है कि मामले में और गिरफ्तारियां हो सकती हैं. आरोपी की पहचान जम्मू एवं कश्मीर निवासी सरकारी विद्यालय में कार्यरत एक शिक्षक साबर के रूप में हुई है. उसे दिल्ली पुलिस व जम्मू एवं कश्मीर पुलिस के एक संयुक्त दल ने गिरफ्तार किया.
 
संयुक्त पुलिस आयुक्त (अपराध शाखा) रवींद्र यादव ने बताया कि साबर को राजौरी जिले से गिरफ्तार किया गया. इससे पहले दिल्ली पुलिस ने सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के हेड कांस्टेबल अब्दुल राशिद और पुस्तकालय सहायक 44 साल के कैफतुल्ला खान उर्फ मास्टर राजा को भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा से संबंधित सूचना हासिल करने और उसे आईएसआई के साथ साझा करने के लिए अरेस्ट किया था.
 
राजौरी जिला निवासी कैफतुल्ला खान पर धन के लालच में आईएसआई के लिए काम करने का आरोप है. उसे 26 नवंबर को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से अरेस्ट किया गया था, जबकि अब्दुल राशिद को राजौरी में अरेस्ट किया गया. जम्मू के पुलिस सूत्रों के मुताबिक, कैफतुल्ला से पूछताछ के बाद अब्दुल राशिद की अरेस्ट हुआ.
 
दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा की एक टीम ने भारतीय सेना के सेवानिवृत्त हवलदार मुनव्वर अहमद मीर को जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले से शुक्रवार को अरेस्ट किया. उस पर इस जासूसी प्रकरण में शामिल होने का आरोप है. पुलिस के अनुसार, साबर ने मीर के साथ संपर्क साधने में खान की मदद की थी.