अजमेर. राजस्थान में दो साल पहले 2013 में हुई लिपिक ग्रेड सैकंड प्रतियोगी परीक्षा के पेपर लीक होने की खबर सामने आने के बाद राजस्थान लोक सेवा आयोग ने इस परीक्षा को शुक्रवार को रद्द कर दिया है. इस मामले की रिपोर्ट आरपीएसी को सौंप दी गई है.
 
आयोग सचिव नरेश ठकराल ने एफसी के फैसले की जानकारी देते कहा कि इस पेपर में एसओजी की रिपोर्ट के आधार पर और होई कोर्ट द्वारा सभी निर्धारित सिद्धांतों को ध्यान में रखते हुए ही इस पेपर को रद्द किया गया.
 
बता दें मामले की जांच कर रही एसओजी ने अपनी रिपोर्ट में परीक्षा के पेपर लीक होने की बात कही है. जिसके बाद आयोग ने यह फैसला किया. परीक्षा 11 जनवरी, 2014 को हुई थी. इसमें सात हजार पदों के लिए करीब साढ़े पांच लाख अभ्यर्थी शामिल हुए थे.
 
इस जांच में एसओजी ने पाया है कि पेपर अमृतलाल मीणा और उनके साथियों ने लीक कराया है. अमृतलाल मीणा वही शख्स है, जिसने आरएएस 2013 के परीक्षा का पेपर लीक किया था.