सोनीपत. उच्च शिक्षा में भारत के शीर्ष इंस्टीट्यूट्स का जलवा बरकरार है. फोर्ब्स की सूची के बाद टाइम्स हायर एजुकेशन ब्रिक्स एंड इमर्जिग इकोनॉमिक्स रैंकिंग्स के अनुसार, उच्च शिक्षा में शीर्ष 200 इंस्टीट्यूट्स की सूची में भारत 16 इंस्टीट्यूट के साथ तीसरे स्थान पर है. शीर्ष 20 संस्थानों में बेंगलुरू स्थित इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस (आईआईएससी) 16वें पायदान के साथ पहली बार सूची में शामिल हुआ है, जबकि देश की प्रतिष्ठित जवाहरलाल नेहरू युनिवर्सिटी (जेएनयू) सूची में जगह नहीं पा सका.
 
यहां ओ.पी.जिंदल युनिवर्सिटी में टाइम्स हायर एजुकेशन ब्रिक्स एंड इमर्जिग इकोनॉमी युनिवर्सिटी समिट के दौरान गुरुवार को सूची जारी की गई, जिसके मुताबिक, आईआईएससी के बाद भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी)-बॉम्बे है, जो 29वें पायदान पर है.
 
सूची में शीर्ष 10 संस्थानों में आधे और शीर्ष 200 में कुल 39 इंस्टीट्यूट्स के साथ चीन का दबदबा है. चीन ब्रिक्स व अन्य उभरते राष्ट्रों से कहीं आगे है. शीर्ष 200 इंस्टीट्यूट्स की सूची में ताईवान के 24 इंस्टीट्यूट हैं. टाइम्स हायर एजुकेशन वर्ल्ड युनिवर्सिटी रैंकिंग्स के संपादक फिल बैटी ने समारोह के दौरान कहा, “भारत के लिए यह अच्छी खबर है कि ब्रिक्स व उभरते राष्ट्रों के सर्वश्रेष्ठ संस्थानों की इस साल की सूची में उसके 16 इंस्टीट्यूट को जगह मिली है.” 16 इंस्टीट्यूट्स में से सात आईआईटी हैं.
 
ओ.पी.जिंदल ग्लोबल युनिवर्सिटी के संस्थापक कुलाधिपति नवीन जिंदल ने कहा, “आज के दौर में उच्च शिक्षा के प्रति प्रतिबद्ध होने व इसके बेहतरीन नतीजे पाने का हक प्रत्येक जनता को है, जो बेहतर फ्यूचर की आकांक्षा करते हैं.”
 
सूची में आईआईएससी 16वां, आईआईटी-बॉम्बे 29, आईआईटी-मद्रास-36, आईआईटी-दिल्ली 37, आआईआईटी-खड़गपुर 45, जादवपुर युनिवर्सिटी 80, आआईआईटी-गुवाहाटी-83, आआईआईटी-कानपुर 95, पंजाब युनिवर्सिटी-121, सावित्रीबाई फुले युनिवर्सिटी-127, युनिवर्सिटी ऑफ कलकत्ता-137, अलीगढ़ मुस्लिम युनिवर्सिटी-150, दिल्ली युनिवर्सिटी-154, अमृता युनिवर्सिटी-181, आंध्रा युनिवर्सिटी-193वां स्थान प्राप्त हुआ है.
 
बता दें कि ब्रिक्स देशों में ब्राजिल, रूस, भारत, चाइना और साउथ अफ्रीका शामिल हैं.