नई दिल्ली.  गाज़ीपुर के रहने वाले तरूण नाम के एक छात्र के पास से स्कूल में मोबाइल पकड़े जाने पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. तरूण पटपड़गंज के मेयो इंटरनेशनल स्कूल में 10वीं  कल्स में पढ़ता था. 
 
बता दें कि तरूण को उसकी टीचर ने कल्स में मोबाइल के साथ पकड़ लिया था. इस बात का घरवालों को पता चलने के डर से छात्र ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. उसने अपने सोसाइड नोट में लिखा, ”जब मैं इस दुनिया में आया था, तुम सब हँस रहे थे और मैं रो रहा था, आज मैं हसूँगा और तुम सब रोओगे.
 
साथ ही उसने सुसाइड नोट में लिखा कि’ आज मैं स्कूल में फ़ोन ले गया, मेरी गलती ये थी कि मैंने वो फ़ोन क्लास में निकाल लिया और फ़ोटो लेने लगा. लेकिन किसी ने अनु मैंडम को बता दिया और मैं फंस गया. मुझे पता है कि स्कूल टीचर की नजर में मेरी इमेज बहुत ख़राब है. लेकिन मैंने सुधरने की कोशिश की थी. अगर मेरे घर वालों को स्कूल जाना पड़ता तो उन्हें शर्मिंदा होना पड़ता, न जाने की मेरे घर वाले मुझसे आस लगाये बेठे हैं  मेरे परिवार ने मेरे लिए बहुत कुछ किया पर में उनके लिए कुछ नही कर सका.”
 
वहीं तरूण के घरवालों ने  स्कूल प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा है कि टीचर के दबाव के कारण तरुण ने आत्महत्या की है. हालांकि स्कूल प्रशासन ने कहा कि हमने किसी प्रकार की ‘सख्ती नहीं की थी सिर्फ घरवालों को स्कूल में लाने के कहा था.’