नई दिल्ली. लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने सांसदों से सोमवार को असहिष्णुता के मुद्दे पर चर्चा के दौरान सदन में असहिष्णुता नहीं दिखाने का आग्रह किया. उन्होंने अन्य सदस्यों के विचारों को भी धैर्य से सुनने की सलाह दी. सुमित्रा महाजन ने नियम 193 के तहत सदन में चर्चा शुरू होने से पहले सांसदों से कहा कि सांसद लोगों का नेतृत्व करते हैं और उन्हें उम्मीद है कि चर्चा सही दिशा में आगे बढ़ेगी.
 
सुमित्रा ने कहा, “देश के सामने कई सवाल खड़े हैं. उम्मीद है कि इस चर्चा से इन सवालों के सही जवाब तलाशने में मदद मिलेगी और इसलिए इस विषय पर चर्चा की अनुमति दी गई है.” उन्होंने उम्मीद जताई कि सांसद अपनी जिम्मेदारी समझेंगे और कम से कम सदन के भीतर असहिष्णुता नहीं दिखाएंगे.
 
सदन में नियम 193 के तहत चर्चा में वोटिंग का प्रावधान नहीं है.