नई दिल्ली. राज्यसभा में बीएसपी अध्यक्ष मायावती ने संविधान पर चर्चा के दूसरे दिन आरक्षण के मुद्दे पर बड़ा बयान देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आर्थिक रूप से कमज़ोर अगड़ी जातियों को आरक्षण देना चाहिए. 
 
मायावती राज्यसभा में कहा कि अगड़ी जाति के लिए आर्थिक आधार पर आरक्षण देने की घोषणा पीएम मोदी ने क्यों नहीं की. प्रधानमंत्री 27 नवंबर के अपने भाषण में ये घोषणा करते तो ये अंबेडकर के लिए सच्ची श्रद्धांजलि होती. इसके साथ ही मायावती ने कहा, “भगवान बुद्ध ने मानवता और शांति संदेश दिया, एक ऐसा संदेश जिसकी हमें आज सबसे ज्यादा जरूरत है.” इसके साथ ही उन्होंने कहा, “प्रधानमंत्री जब विदेश दौरों पर होते हैं तो बौधित्व की बातें करते हैं लेकिन देश में प्रधानमंत्री के साथियों के काम भगवान बुद्ध की शिक्षाओं के विपरीत हैं.”